Sunday, 24 May 2009

एनिमेशन की बारिकियों को बताया जा रहा है

मुंबई के पवई स्थित रेसीडेंस कन्वेनशन सेंटर में कल सुबह से ही लोग जुटे हुये हैं। एनिमेशन की दुनिया को नजदीक से समझने और जानने की ललक उन्हें यहां खींच लाई है। इसमें एनिमेशन जगत से जुड़ी कंपनियों के साथ-साथ कई शैक्षणिक संस्थाओं ने शिरकत किया है। विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से एनिमेशन, जगत की बारीक जानकारी दी जा रही है। एक एनिमेशन फिल्म कैसे बनता है, उसको बनाने की प्रक्रिया क्या है, चरित्रों को कैसे आकार दिया जाता है, और कैसे उनमें रंग भरे जाते हैं, उनकी लोच और गति कैसे निर्धारित की जाती है आदि को बहुत ही सरल तरीके से समझाया जा रहा है।
मेले में युवा छात्र-छात्राओं की भीड़ हैं। एनिमेशन की दुनिया को समझने के लिये युवाओं का झूंड लगभग सभी स्टालों पर नजर आ रहा है। हंसते-चहलकते हुये लोग एनिमेशन की बारिकियों को सीख रहे हैं। एनिमेशन से संबंधित कई विषयों पर सेमिनार का भी आयोजन चल रहा है।विभिन्न तरह के शैक्षणिक संस्थायें युवाओं को एनिमेशन तकनीक के प्रति आकर्षित करने के लिए अपना-अपना स्टाल लगाये हुये हैं, जैसे डिजिटल एशिया स्कूल आफ एनिमेशन, एफ एक्स स्कूल, जी इंस्टीट्यूट आफ क्रिएटिव आर्ट, सीआरईए स्कूल आफ डिजिटल आर्ट, फ्रेमबाक्स एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट, दि कालेज आफ एनिमेशन बायोइंजियनिरिंग, ड्रीम वर्क, ग्राफिटी स्कूल आफ एनिमेशन,पिकासो एनिमेशन कालेज आदि।
ये शैक्षणिक संस्थान एनिमेशन से संबंधित तमाम कोर्सों के बारे में आगंतुको को विस्तार से बता रहे हैं, साथ ही इस बात का भी यकीन दिला रहे हैं कि आने वाले समय में एनिमेशन उद्योग में पूरी संभावना है।
इस मेले में विभिन्न तरह के एनिमेटड फिल्मों का प्रदर्शन भी किया जा रहा है। निर्मित और अर्द्ध-निर्मित फिल्मों से जुड़ लोग फिल्म निर्माण के दौरान किये जाने वाले प्रयासों को रोचकता और बारीकी से रख रहे हैं। इसमें एनिमेटेड फिल्म की फिलोसफी से लेकर उसके निर्माण प्रक्रिया को पूरी मजबूती से रख जा रहा है। आगंतुकों को तकनीक के साथ-साथ इसके कला पक्ष को समझने में सहुलियत हो रही है। जैसे एनिमेशन फिल्म में एक चरित्र के निर्माण की प्रक्रिया क्या है, उसके लिए किस साफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता है, कैसे उसमें रंग भरे जाते हैं आदि।
इस मेले में विदेशी कंपनियां भी शिरकत कर रही हैं, और एनिमेशन से संबंधित विभिन्न पहलुओं पर रोशनी डाल रही हैं। इस क्षेत्र में काम करने वाले प्रतिभाशाली लोगों के लिए यहां पर विदेशी कंपनियों में रोजगार पाने के भी अवसर उपलब्ध है।
इस मेले का आयोजन सीटी तंत्रा कर रहा है। कल रात सीजी तंत्रा की ओर से एनिमेशन के क्षेत्र में कार्य करने वाले लोगों को पुरस्कृत भी किया गया। कुल मिलाकर यह मेला देखने लायक है। एनिमेशन से संबंधित तकनीक को समझने का अवसर मिलेगा।

3 comments:

  1. aane wala samay animetion k kshetra me vyavsaay aur rozgar k lihaz se desh-duniya ka ek bahut bada factor ho0ga isliye aise aayojan atyant doorgaami parinam dene wale aur upyogi hote hain
    ----aapko badhai is post k liye

    ReplyDelete
  2. बहुत ठीक है ,इस की विस्तृत रिपोर्ट की प्रतीक्षा रहेगी .

    ReplyDelete
  3. यह ज्ञानवर्धक लेख मिला

    ReplyDelete

सुस्वागतम!!